मैं हसीना गज़ब की

लेखिका: शहनाज़ खान

 


भाग - ११


 

ऐसे ही एक शाम मैं नशे में स्टेज पर डाँस कर रही थी। बहुत ही उत्तेजक और तेज़ म्यूज़िक चल रहा था और स्टेज नाचने वाले लोगों से खचाखच भरा हुआ था। सभी नंग-धड़ंग हालत में झूम रहे थे और बहुत से तो पूरे नंगे थे और कईं जोड़े चुदाई में भी लगे थे। ताहिर अज़ीज़ खान जी पहले तो वहीं मौजूद मेरे पास ही डाँस रहे थे पर जब डाँस खत्म हुआ तो वो कहीं दिखायी नहीं दिये। हर तरफ कितने ही जोड़े नंगे होकर चुदाई में मसरूफ थे। सशा और हैमिल्टन भी चुदाई का मज़ा ले रहे थे और मेरी चूत भट्ठी की तरह जल रही थी। मेरे जिस्म पर सिर्फ छोटी सी स्कर्ट थी और मेरे मम्मे पूरे नंगे थे क्योंकि डाँस करते वक्त मेरे जिस्म से भी किसी ने मेरा टॉप खींच दिया था और अब उस टॉप के मिलने की कोई उम्मीद नहीं थी। डी-जे ने नया म्यूज़िक चालू किया तो मैं नशे में लड़खड़ाती हुई स्टेज से उतरी और उन नंगे लोगों की भीड़ में ससुर जी को खोजने लगी और अचानक हाई-हील सैंडल में मेरा संतुलन बिगड़ गया और मैं गिरने लगी तो किसी के मजबूत हाथ ने मुझे थाम लिया और गिरने से रोका। मैंने देखा एक हट्टा-कट्टा आफ्रिकी काला आदमी मेरे पीछे से मुझे थामे मुस्कुरा रहा था। मुझे अपने चूतड़ों के बीच कुछ ठोस चीज़ चुभती हुई महसूस हुई पर अगले ही पल मुझे एहसास हुआ कि वो और कुछ नहीं बल्कि उसका हलब्बी लंड था।

 

थैंक यू सो मच! मैंने संभलते हुए उसकी तरफ मुड़कर कहा।

 

मॉय प्लेज़र.... वो मुस्कुराता हुआ बोला। मैं अभी भी उसकी मजबूत बाँह की गिरफ़्त में थी और उसके इतनी करीब थी कि उसका लंड मेरी नाभी के ऊपर चुभ रहा था। मेरी नज़र उसके काले लंड पर पड़ी तो मेरी आँखें फटी रह गयीं और मन-ही-मन में मैं सिसक उठी। इतना बड़ा लंड तो मैंने ज़िंदगी में नहीं देखा था। ऐसा लग रहा था किसी घोड़े का लंड हो और वो आदमी स्वयं भी बहुत ही ताकतवर और हट्टाकट्टा था। वो इतना लंबा था कि मेरे साढ़े-चार-पाँच इंच ऊँची हील के सैंडलों के बावजूद उसका लंड मेरी नाभी के ऊपर था।

 

वो शायद मेरी हालत समझ गया ओर बोला, इट सीम्स यू लाइक मॉय टूल... हाऊ अबाऊट ए ड्रिंक विद मी एंड देन यू कैन ट्राय.....

 

उसकी बात पुरी होने के पहले ही मैं बोल पड़ी, ऊँहह! आय... एक्चुअली आय एम लुकिंग फ़ोर मॉय बॉस....! लेकिन मैंने उससे दूर होने की कोशिश नहीं की। मेरा हाथ खुद-ब-खुद ही उसके हलब्बी लंड की तरफ बढ़ गया। पता नहीं मुझे क्या हो गया था। मुझे तो जैसे उसके लंड ने हिप्नोटाइज़ कर लिया था।

 

कम ऑन ब्यूटीफुल.... योर बॉस मस्ट बी फकिंग सम कंट सम व्हेयर.... यू शुड एंजॉय ठू.... ये कहते हुए उसने अपने लंड पर रखे मेरे हाथ को और दबा दिया। मेरी हथेली में उसके लंड की मोटाई समा नहीं रही थी। इतना मोटा घोड़े जैसा लंड अपनी चूत में लेने के ख्याल से मैं सिहर उठी और मेरी चूत का पानी तो जैसे चूत की गर्मी से भाप बन कर निकलने लगा।

 

वो मुझे सहारा दे कर बार के करीब ले गया और दो ड्रिंक्स ऑर्डर किये। फिर उसने मुझे कमर से पकड़ कर उछालते हुए ऊँचे बार-स्टूल पर इस तरह बिठा दिया जैसे मैं कोई रबड़ की गुड़िया होऊँ। हमने एक दूसरे को अपना इंट्रोडक्शन दिया। उसका नाम ओरिजी था और वो नाईजीरिया का रहने वाला था। हम ड्रिंक पीने लगे और मैं बैठे-बैठे ही नशे में झूमती हुई उसकी बातों पर खिलखिला कर हँस रही थी। वो मेरी तारिफ किये जा रहा था जैसे यू अर सो सैक्सी.... इफ़ आय वर योर बॉस.... आय वुड नॉट लीव यू फोर अ मोमेंट, वगैरह-वगैरह। मुझे तो अपनी किस्मत पर फख्र हो रहा था, मानो मुझे उस गैर-मामुली लंड के रूप में कोहीनूर हिरा मिल गया हो और मैं उससे चुदने के लिये लालियत हो रही थी। वो मेरे बहुत नज़दीक बैठा था और हमारे हाथ एक-दूसरे के जिस्मों को बीच-बीच में सहला रहे थे। मैं भी उसके गठीले जिस्म और राक्षसी लंड की तारीफ कर रही थी। जब मैंने उसे बताया कि मैंने पहले कभी इतना बड़ा लंड किसी इंसान का नहीं देखा तो वो बोला, डोंट वरी.... मॉय बिग कॉक इज़ ऐट योर सर्विस ऐज़ लाँग ऐज़ यू वाँट!

 

अचानक मैंने देखा कि वो हाथ हिला कर किसी को इशारा कर रहा है। फिर मैंने एक और लंबे चौड़े काले आदमी को हमारी तरफ आते हुए देखा। वो ओरिजी की तरह बिल्कुल नंगा नहीं था बल्कि शॉर्ट्स पहने हुए था। वो पास आया तो मुझे एहसास हुआ कि वो ओरिजी से ऊँचा और वैसा ही हट्टा-कट्टा था। उसके गले में सोने की मोटी सी चेन झूल रही थी। उन्होंने अपनी भाषा में कुछ मज़ाक किया और फिर ओरिजी ने मेरा तार्रुफ कराया। शहनाज़! दिस इज़ माइकल... मॉय फ्रेंड फ्रॉम केन्या.... एंड माईक, दिस इज़ ब्यूटिफुल शहनाज़ ....।

 

माइकल ने मुस्कुराते हुए मेरे गालों पर एक चुंबन दिया और मेरे मम्मों पर अपना बड़ा सा हाथ रख कर उन्हें दबा दिया। वॉव.... यू र सो सैक्सी.... ऑय विश आय वाज़ ऐज़ लक्की ऐज़ ओरिजी टू हैव योर कंपनी टू-नाईट! मेरे हाथ में ओरिजी के लंड को दखते हुए उसने आह भर कर कहा।

 

कम ऑन मॉय मैन.... जॉयन अस फोर अ ड्रिंक.... वी कैन आल हैव फन टूगेदर! ओरिजी ने आँख मारते हुए कहा। मेरा दिल उत्तेजना में जोर-जोर से धड़कने लगा पर मुझे उस समय पूरा यकीन नहीं था कि क्या सचमुच फन से उसका मतलब चुदाई से है। मैं मन ही मन दुआ करने लगी कि उसके कहने का मतलब यही हो और माईक का लंड भी ओरिजी जैसा ही हो और मुझे आज की रात दो-दो काले आदमियों के मोटे-तगड़े लौड़ों से चुदवाने को मिले।

 

माइक भी एक बार-स्टूल हमारे पास खींच कर उस पर बैठ गया और तीनों के लिये ड्रिंक ऑर्डर किया। ओह नॉट फॉर मी... ऑय हैव बीन ड्रिंकिंग होल इवनिंग..... एंड ऑय एम आलरेडी टू-मच ड्रंक.... मैंने मना करते हुए कहा।

 

कम ऑन ब्यूटीफुल..... हैव फन..... योर सैक्सी बॉडी इज़ मोर इंटॉक्सीकेटिंग दैन ऑल द लिकर यू कैन ड्रिंक... वो बोला और उसने अपना शॉर्ट्स उतार दिया और बिकुल नंगा हो गया। मेरी तो साँस ही हलक में अटक गयी क्योंकि उसका लंड तो ओरिजी के लंड से भी ज्यादा भयानक था। ओरिजी का लंड ही एक फुट के लगभग था और माईक का लंड तो उससे भी दो-तीन इंच लंबा और मोटा भी था। जहाँ एक तरफ मेरी चूत में उत्तेजना की लहरें उठ रही थीं वहीं मेरे दिल में अंजाना सा डर भी था कि क्या मेरी चूत में ये लौड़े दाखिल हो पायेंगे। ये दोनों हब्शी, आदमी थे या जानवर क्योंकि उनके लौड़ों का नाप इंसानी तो नहीं था।

 

उसने जो ड्रिंक ऑर्डर किया था, वो काफी स्ट्राँग था पर था बहुत लजीज़। मैंने दो तीन बड़े सिप लेकर ग्लास सामने रख दिया। मैंने खुद को उस माहौल के हवाले करके बिना किसी झिझक के ऐय्याशियों में डूब जाने का फैसला कर लिया। उस समय मुझे ससुर जी की भी परवाह नहीं थी। ऐसा मौका मुझे फिर कभी मिलने वाला नहीं था। खुदा की नेमत मानकर मैं तो बस सारी हदें तोड़ कर उन दो काले आदमियों के साथ रात भर किसी भी तरह की रंगरलियों के लिये लालियत थी।

 

मैंने भी अपने चूतड़ उचका कर अपनी मिनी-स्कर्ट टाँगों के नीचे खिसका दी जिसे माईक ने मेरे पैरों से खींच कर एक तरफ उछाल दिया। अब मैं भी सिर्फ हाई-हील सैंडल पहने उन दोनों की तरह बिल्कुल नंगी थी। उनके अज़ीम लौड़ों को निहारते हुए जब मुझसे रहा नहीं गया तो मैंने जल्दी से अपने ड्रिंक के दो घूँट पिये और स्टूल से नीचे कूद कर उन दोनों की टाँगों के बीच में घुटने मोड़ कर बैठ गयी और अपने दोनों हाथों में उनके लौड़े थाम लिये। उनके लौड़ों के इर्द-गिर्द मैं अपने हाथ पूरे लपेट नहीं पा रही थी। मैंने कुछ पल दोनों लौड़ों को सहलाया और फिर मुँह खोल कर ओरिजी के लंड के सुपाड़े के इर्द-गिर्द अपने थरथराते होंठ चिपका दिये और उसके सुराख को मैं अपनी जीभ से कुरेदने लगी। मैं वासना के आवेश में बिल्कुल बेहया और अंधी हो गयी थी।

 

गॉड! दिस इज़ गो‍इंग टू बी ए डे टू रिमेंबर, कहते हुए मैंने ओरिजी के लंड का मोटा सुपाड़ा अपने मुँह में भर लिया। मुझे यकीन नहीं था कि मैं उसका दानवी लंड अपने मुँह में ले पाऊँगी लेकिन जब उसका सुपाड़ा मेरे मुँह में दाखिल हुआ तो मुझे अपने जबड़े के लचीलेपन का एहसास हुआ। उसके लंड को ज़्यादा से ज़्यादा अंदर समा लेने के लिये मेरा मुँह चौड़ा खुल गया। अपने मुँह में अंदर धंसते हुए उसके लंड पर अपनी जीभ फिराते हुए मैंने उसके सुपाड़े को गले तक निगल लिया।

 

बेऽऽऽबीईईऽऽ! वो जोर से सिसका और अपने चूतड़ जोर से हिलाते हुए अपना लंड मेरे गले में और अंदर तक ठाँस दिया। इतने पर भी उसका आधे से ज्यादा लंड मेरे मुँह के बाहर था और मेरी दोनों हथेलियाँ लंड के उस हिस्से पर कसी हुई थीं। मैंने अपने गले में थूक गर्राते हुए अपने मुँह से उसके लंड को बाहर निकाला और फिर अपना सिर घुमा कर अपना चेहारा माइक के लंड की तरफ किया। मैं अब अपने होंठ उसके लंड पर चिपका कर उसके हबशी लंड की लंबाई पर फिराती हुई चूसने लगी और फिर होंठ नीचे ले जा कर उसके टट्टे चूसने लगी। उसके टट्टों पर उगे बालों में से पेशाब जैसी तीखी बदबू आ रही थी पर उससे नफ़रत होने की बजाय मेरी वासना और भड़क उठी। पहले मैंने उसके एक टट्टे को अपने मुँह में लेकर चूसा और फिर दूसरे टट्टे को पूरा अपने मुँह में ले कर टॉफी की तरह चूसा।

 

इसी तरह अदल-बदल कर मैं बारी-बारी से उनके भयानक लौड़े और टट्टे चूसने लगी। मेरी चुलचुलाहट पूरे परवान पर थी और मैं उनके काले मुसल्ली लौड़ों का वीर्य चखने के लिये मचलने लगी थी। ओह शिट, दिस इज़ अमेज़िंग! एक दो पल के लिये उनके लौड़ों से अपने होंठ हटा कर मैं सिसकी। ऑय लव दीज़ कॉक्स... सो बिग... सो थिक.... सो फकिंग ब्लैक... यम्मी!

 

कीप सकिंग! यू स्लट! माइक ने गुर्राते हुए चाबुक की तरह अपना लौड़ा मेरे गलों पर थपेड़ा ।

 

मैंने फिर लपकते हुए माइक का काला भुसण्ड अपने मुँह में भर लिया। ओरिजी भी मेरे चेहरे के एक तरफ खड़ा अपना लंड सहलाने लगा क्योंकि अब मैं पूरी शिद्दत से सिर्फ माइक का लौड़ा चूसने में लगी थी। मैं अपनी पूरी काबिलियत से उसके लंड की टोपी अपने गले तक ठाँस कर लंड चूस रही थी और मेरी राल दरिया कि तरह उसके लंड की रॉड पर और मेरे होंथों से मेरे मम्मों पर झरने की तरह बह रही थी। वो दोनों भी मुझसे रंडी जैसा ही सुलूक कर रहे थे और गालियाँ बकने लगे थे। इस समय उत्तेजना में मैं इतनी बेपरवाह और पागल हो गयी थी कि मुझमें और कोठे की राँड में कोइ फर्क नहीं था।

 

टेक माय कॉक डाऊन... यू बिच! टेक ऑल माय कॉक! माइक मेरा सिर पकड़ कर अपने कुल्हे चलाने लगा। लेकिन मैं उसका वो अज़ीम लौड़ा और अंदर नहीं ले सकती थी। पहले ही उसके लंड की फूली हुई टोपी मेरे गले में ठसाठस भरी थी।

 

पुश ऑल योर कॉक इन हर थ्रोट! ओरिजी ने उसे उकसाया। ओरिजी खुद भी अपना लंड मुठिया रहा था।

 

माइक भी ताव में आ गया और मेरे बालों में अपनी अंगुलियाँ फंसाते हुए मेरे सिर को पीछे से अपने दोनों हाथों में और भी जोर से जकड़ कर अपने लंड को इस कदर झटके से अंदर ठेला कि उसके लंड का सुपाड़ा मेरा गला चीरते हुए मेरे हलक के नीचे उतर गया। मेरी तो साँस ही रुक गयी और मैं छटपटाने लगी लेकिन माइक पर तो जैसे भूत ही सवार था। बेरहमी से जोर-जोर के धक्के मारता हुआ वो पूरा लंड मेरे मुँह ओर हलक में उतारने पर अमादा था। साँस ना ले पाने की वजह से मेरा चेहरा लाल हो गया तो उसने अपना लौड़ा बाहर खींचा। खाँसते हुए गाढ़े थूक का थक्का सा मेरे गले से बाहर उगल पढ़ा।

 

मैंने साँस ली ही थी कि एक बार फिर मुझे उसकी मुठ्ठियाँ अपनी गर्दन के पीछे बालों पर कसती महसूस हुईं और उसने गालियाँ देते हुए अपना लंड फिर एक ही झटके में मेरे हलक में ठाँस दिया। दो तीन धक्कों में ही उसने पुरा लंड अंदर घुसा दिया। मेरे होंठ अब उसके लंड की जड़ में चिपके थे और मेरी नाक उसकी झाँटों में धँसी हुई थी। फैल कर बाहर को निकली मेरी आँखों से आँसू बहने लगे थे लेकिन मैंने उसे रोकने की कोई कोशिश नहीं की। इस दुर्दशा के बावजूद अपने पतन और नीचता का एहसास मेरी चुदास भड़का रहा था। मेरे जिस्म का पोर-पोर अल्लाह-ताला का शुक्रगुज़ार था कि मुझे एक नहीं बल्कि एक साथ दो-दो मुस्टंडे हब्शी लौड़े नसीब हुए। मैं तो ऐसे मोटे लंबे लौड़े को पूरा अपने मुँह में ले कर चूस पाने की काबिलियात पर ही मन ही मन इतरा रही थी। उसका लौड़ा अपने हलक में चूसते हुए साँसे रुकने से अगर मेरी जान भी निकल जाती तो मुझे गम ना होता।

 

मेरे गले से गोंगियाने की दबी-दबी आवाज़ें निकल रही थीं। माइक के बैल जैसे टट्टे मेरी थुड्डी पर चपटें मार रहे थे। दोनों काले हब्शियों के मुँह से लगातार मस्ती भरी आँहें और गालियाँ फूट रही थीं... स्लट... फकिंग कॉक सकर! यू हॉर्नी इंडियन बिच! सो फकिंग गुड! उनकी गालियाँ सुनकर मेरा जोश भी बढ़ता जा रहा था और अब मैं उस लंड की क्रीम चखने के लिये बेकरार होने लगी थी। मुझे ज़्यादा इंतज़ार नहीं करना पड़ा और कुछ ही देर में माइक का जिस्म अकड़ता हुआ महसूस हुआ और उसने मेरे बाल खींचते हुए अपने चुतड़ पुरी ताकत से आगे ठेल दिये। उसका लौड़ा पत्थर की तरह सख्त हो कर मेरे हलक में धँस कर धड़कने लगा। फिर उसके लंड में से उसका वीर्य तूफानी दरिया की तरह उमड़-उमड़ कर मेरे हलक में बहने लगा। मैं भी पूरे जोश से उसक वीर्य पीने लगी। उसका वीर्य भी उसके लौड़े के नाप की तरह बेशुमार था। मैंने पहले कभी इतना सारा वीर्य नहीं पीया था। गाढ़ा वीर्य लगातार उसके लंड में से फूट रहा था और मैं उसका मुकाबला नहीं कर पा रही थी। उसका गाढ़ा वीर्य मेरे मुँह में इस कदर भर गया कि मेरे गाल फूल गये और मेरे होंठों से वीर्य बुदबुदाता हुआ बहर निकलने लगा। मैंने अपने एक हाथ को अपने मुँह के नीचे ले जा कर वो वीर्य अपने चुल्लु में भर लिया।

 

इस दौरान मैं ओरिजी को तो भूल ही गयी थी लेकिन उसकी मस्ती भरी कराहें मेरे कानों में पड़ी तो मैंने देखा कि उसका लंड स्टील के रॉड की तरह सख्त था और उसका फुला हुआ काला सुपाड़ा बहुत ही भयानक लग रहा था। उसकी हालत से मुझे ज़ाहिर हो गया कि उसका वीर्य भी छूटने को था। मुझे थोड़ी मायूसी हुई क्योंकि उस विशाल लौड़े को अपने मुँह में चूस कर उसका रसपान करने का मौका मेरे हाथ से निकल गया था। अचानक बिना सोचे ही मैं चींख पड़ी, नोऽऽऽ! डोंट कम... डोंट वेस्ट... ऑय वाँट टू ड्रिंक योर क्रीम!

 

पता नहीं उसने पहले से ही सोच रखा था या मेरी गुहार सुनकर उसने ऐसा किया लेकिन अगले ही पल उसने मेरी कॉकटेल का आधा भरा लंबा ग्लास उठा कर अपने लंड के आगे कर दिया और उसमें अपने वीर्य की पिचकारी छोड़ दी। मैं हैरत में थी कि ये दोनों इंसान थे या जानवर। इतना वीर्य किसी इंसान के टट्टों में कैसे हो सकता है। वो ग्लास कॉकटेल से सिर्फ आधा भरा था और अब उसके ऊपर बाकी ग्लास ओरिजी के दही जैसे गाढ़े वीर्य से लबालब भर गया था और उसके लंड में से अभी भी वीर्य फूट रहा था।

 

दिस बिच इज़ अमेज़िंग मैन! शी इज़ सो क्रेज़ी फॉर कम! मुझे मेरे चुल्लू में भरे वीर्य को जीभ से चाटते देख कर माइक हंसते हुए बोला।

 

टेक दिस ग्लास... यू फिलथी स्लट एंड ड्रिंक दिस कॉकटेल! ओरिजी ने वो ग्लास मेरे आगे किया! मैंने झपट कर वो ग्लास अपने होंठों से लगा लिया और उसका माखनिया वीर्य पीने लगी। थोड़ा सा पीने के बाद मैंने दो उंगलियों से वो गाढ़ा वीर्य कॉकटेल के साथ मिलाया और फिर गटागट पी गयी। ऐसा स्वाद और ऐसी लज़्ज़त कि मैं बयान नहीं कर सकती।

 

लुक ऐट दैट! हर कंट इज़ लीकिंग लाइक ए टैप! ओरिजी बोला तो मैंने नीचे देखा। मेरी चूत से रस टपक-टपक कर मेरे सैंडलों के बीच में ज़मीन पर इकट्ठा हो गया था।

 

येस ऑय एम ए होर... फक मी प्लीज़... राइट नॉव...! मैंने उन दोनों के लौड़े हाथ में ले कर हिलाये जो अभी भी काफी सख्त थे। मेरा सिर नशे और उत्तेजना में घूम रहा था और मैं उनसे चुदने के लिये बेकरार थी। चुदास से मैं पागल हुई जा रही थी।

 

श्योर बेब! लैट अस गो टू मॉय रूम!

 

ऑय एम टू ड्रंक टू वॉक! फक मी हि‍अर! नॉव... प्लीज़! मैं गिड़गिड़ाने लगी और वहीं पसर गयी। सच में मैं नशे में धुत्त थी और दो कदम चल पाने के भी काबिल नहीं थी।

 

ऑय कैन पिक यू अप! ओरिजी ने बड़ी आसानी से मुझे रबड़ की गुड़िया की तरह अपनी गोद में उठा लिया और वो दोनों मुझे लेकर अपने कमरे की ओर चल पड़े।  हम तीनों ही मादरजात नंगे थे। मैंने अपनी बाँहें उसकी गर्दन में लपेटी हुई थीं। मुझे कुछ भी होश नहीं था और मैं उसकी गोद में भी बड़बड़ाती जा रही थी, फक मी... चोदो मुझे... जस्ट फक मी नॉव! मुझे अब अपनी ज़ुबान पर बस नहीं था और मैं इंगलिश और हिंदी दोनों ज़ुबानों में बोल रही थी। 

 

दोनों मेरी तड़प देख कर हँस रहे थे। जस्ट वेट बिच! वी विल फक यू लाइक द स्लट यू आर!

 

वी विल फक यू ऑल नाइट... अन्टिल यू कैंट वॉक! उनके फिकरे सुनकर मेरी आग और भड़क रही थी और मैं ओरिजी कि गोद में छटपटाने लगी।

 

उनका कमरा ग्यारहवीं मंज़िल पर था। जब हम लिफ्ट में पहुँचे तो ओरिजी ने मुझे गोद से उतारा और माइक ने मुझे अपनी बाँहों में थाम लिया। ऊँची ऐड़ी के सैंडलों के बावजूद मैं उसकी छाती तक ही पहुँच पा रही थी। उसने मेरी कमर लिफ्ट की दीवार से चिपका दी और मेरे चूतड़ों को पकड़ कर दीवार के सहारे खूँटे की तरह मुझे उठा दिया और मुझे चूमने और सहलाने लगा। मैंने भी मस्ती में अपनी टाँगें उसकी कमर पर कैंची की तरह कस दीं और उससे चिपक गयी। जब लिफ्ट का दरवाज़ा खुला तो माइक  मुझे वैसे ही उठाये हुए अपने कमरे तक ले गया।

 

कमरे में पहुँचते ही उसने मुझे बिस्तर पर पटक दिया। सिर्फ सैंडल पहने बिल्कुल नंगी मैं उनके बिस्तर पर टाँगें फैलाये चुदने के लिये तड़प रही थी। अपनी भीगी चूत पर हाथ फिराते हुए मैंने फिर से गुहार की, प्लीज़ फक मी नॉव! ऑय वांट योर कॉक्स! फक मी लाइक योर बिच! उनके भयानक हब्शी लौड़ों से चुदने की हवस में मैं इतनी गिर गयी थी कि मैं गिड़गिड़ाते हुए उनसे चुदने की भीख माँग रही थी। मेरे अंदर कोई शरम या गैरत नाम की चीज़ बाकी नहीं रह गयी थी।

 

लुक ऐट हर माइक! शी इज़ सो हंगरी फ़ोर आवर ब्लैक कॉक्स! मेरी हालत पर ओरिज़ी हंसते हुए बोला।

 

प्लीज़... ऑय विल डू एनीथिंग यू वांट! जस्ट फक मी! मैं तड़पते हुए फिर से गिड़गिड़ाने लगी।

 

एक ग्लास पानी और दो अलग-अलग रंग की गोलियाँ मेरी तरफ बढ़ाते हुए माइक बोला, ओके स्लट! टेक दीज़ टेबलेट्स.... दैन ओनली यू विल बी एबल टू इम्जॉय एंड हैंडल दीज़ ग्रैंड कॉक्स!

 

मैंने बे-हिचक वो दोनों गोलियाँ पानी के साथ निगल लीं! मैं नशे में चूर थी लेकिन इतना तो मैं समझ सकती थी कि ये कोई नशीली ड्रग की गोलियाँ हैं लेकिन उस समय तो उनके हलब्बी लौड़ों से चुदने के बदले में मैं ज़हर भी हंसते-हंसते पी जाती।

 

गुड गर्ल! नॉव गैट ऑन योर नीज़ एंड सक दीज़ बिग कॉक्स बैक टू लाइफ! दोनों अपने लौड़े झुलाते हुए मुझे ललचाने लगे। हालांकि मेरी चुत इस समय उनके लौड़ों के लिये बिलबिला रही थी लेकिन मेरे पास कोई चारा नहीं था। उनके लौड़ों के लिये मैं बिस्तर से जैसे ही उतरी तो वहीं लुढ़क गयी। ओहो! वो दोनों हंसे तो मैं भी उनके साथ अपनी हालत पर खिलखिला कर हंस पड़ी। एक तो बेहिसाब पी हुई शराब का नशा और साथ में पाँच इंच उँची ऐड़ी के सैंडल। नशीली गोलियों का भी असर होने लगा था शायद । हकिकत में तो अपनी हवस में मैं कितनी नीचे गिर गयी थी लेकिन उस समय मुझे ऐसा लग रहा था जैसे मैं बादलों में उड़ रही हूँ! सारा माहौल गुलाबी-गुलाबी सा महसूस हो रहा था।

 

मैं नागीन की तरह सरकते हुए उन दोनों के पास पहुँची और उनके लौड़ों को अपने हाथों लेकर सहलाने लगी। मेरे मुँह में फिर पानी भर आया और मैं बारी-बारी से उनके लौड़े चूसने और मुठियाने लगी। कुछ ही देर में उनके लौड़े फौलद की तरह सख्त हो गये और वो दोनों बेरहमी से बारी-बारी से मेरे हलक में अपने लौड़े ठूँसते हुए धक्के मार रहे थे।

 

ऑय थिंक शी नीड्स टू बी फक्ड नॉव! माइक बोला।

 

यै! टाइम टू शो हर द मैजिक ऑफ ब्लैक कॉक्स! मेरे मुँह में से अपना मूसल लौड़ा निकालते हुए ओरिजी बोला। मेरी ठुड्डी से राल नीचे टपक रही थी और उनके लौड़े भी मेरे थूक से तरबतर सने हुए दमक रहे थे।

 

येस! येस! ऊऊहह... येस... प्लीज़... ओरिजी... फक मी... काले लौड़े.... मेरी चूत... प्लीज़... योर बिग कॉक्स... चोदो... ! नशे और उत्तेजना में मेरी ज़ुबान बहक रही थी। मुझे होश नहीं था कि मैं क्या बोल रही थी। बस इतनी उम्मीद कर रही कि मेरे अल्फाज़ों का मतलब वो शायद मुझसे बेहतर समझ पा रहे होंगे।

 

दोनों ने अपनी ज़ुबान में एक दूसरे से कुछ कहा और फिर हंसते हुए हाथ उठा कर हवा में एक दूसरे को ताली दी।

 

!!! क्रमशः !!!


भाग-१ भाग-२ भाग-३ भाग-४ भाग-५ भाग-६ भाग-७ भाग-८ भाग-९ भाग-१० भाग-१२ भाग-१३ भाग-१४

मुख्य पृष्ठ (हिंदी की कामुक कहानियों का संग्रह)


Online porn video at mobile phone


cache:9y6TxxbBVnYJ:awe-kyle.ru/files/Authors/FUCKTOR/www/mytranslations/eandistories.html गाँड का छोटा छेद चुदायी काहानीsteifes knabengliedrisa lyn storiesnackt ausziehen vor tantenमाँ की बुर की चुदाईChris Hailey's Sex Storieserotic stories by janusWww.Hdhindexvideo.comअनुभवी औरत की चूत का पेशाब पीने का नशा चुदाईगाँड में घुसा दियालोड़ो bahos soderotic fiction stories by dale 10.porn.comताकतवरलंडcache:UCLOoBxVfscJ:awe-kyle.ru/~Andres/ausserschulische_aktivitaeten/01_-_Der_neue_Computer.html Little sister nasty babysitter cumdump storiesFotze klein schmal geschichten perversगांड फाड़ डाली सबने मिलकेchhagal o kukur xxx vediocache:Zl_PUVv9sZgJ:awe-kyle.ru/files/Authors/sevispac/www/misc/girlsguide/index.html forlorngirl pornvideo़ मोटी औरतों का BFkristen archives pregnant patrick flanaganbhavi ko bubu rat me pili hindiदिन को शर्माती है और रात को चूत मरवाती है।story porn ped movie rphentai squirming tentacles stimulatorgarmi ki chutiyo me chudaiawe-kyle.ru janusघुमाने फिराने के बहाने चुदाई की हिनदि कहानियाKleine Fötzchen erziehung zucht geschichten pervers"Joe doe" "strip search" sheriffmin trånga dotters fitta sprutadeek ही झटके में चुत की सील खुल गईbabysitter dilema xvideos.comole crannon free storiestorrid tales of the taboo fun with naomiasstr.org Black masterDarles chickens lauren part 6 asstrLittle sister nasty babysitter cumdump storiescache:-4gl5SnlLggJ:awe-kyle.ru/info/VRYVQUVHPGWCFPNKZSGZ.html hajostorys.com"marry me" leslitaodani ke ander chudaicunny frenulumcache:N01476cAR1QJ:awe-kyle.ru/~Janus/jeremy16.html xxx mere papa ne meri chut ke baal saph kiye"midnight duel in the forbidden forest"cache:NFoHLfhUJ0YJ:awe-kyle.ru/files/Collections/Nepi_Stories/ faster than the pace increased rachael renpetmein pimmel war noch völlig haarlosferkelchen lina und muttersau sex story asstrपिली सलवार सफ़ेद चुतbloated tip spread damp pussy ped first time sex storiesmom son fuck and mom spray water from her vagina on the son's mouthKeri met ban any as Kay meri zinger dobijli wale ne chudai ki hindi fontfiction porn stories by dale 10.porn.comMadam ki high Hill Sandal Aur ChudiRelated- Awe-kyle.ru/big_messasstr.org.com., white slave couplehttp://awe-kyle.ru/~arkayz_bible/boner dripping precum in streaksBATH TIME LESLIE SCHMIDT EROTIC STORIESfiction porn stories by dale 10.porn.comstraddling the railing "i smiled" her slenderमुसलसेकसीcache:XFJpRswAt-MJ:awe-kyle.ru/~LS/stories/popilot6665.html ewe asstrsiebenjährige entjungfertcache:zkdOhXZEycAJ:awe-kyle.ru/~Olivia_Palmer/oop-aa001.html Fotze klein schmal geschichten perversदीदी भैया के दोस्तों से चुदवाते पकड़ी गयीKleine Ärschchen dünne Fötzchen geschichten perversasstr tear blood cunt destroyberahmi se chodakahanimom chuta her seving son sexgauther in law with granpaa fuked in bed rest japanies nakedFEMDOM MISTRESS GAIA AND HER PUPPY STORIEScudai ki lamb lambi kahani hendi mefötzchen erziehung geschichten perversone final thrust buries cock deep in tiny cuntKleine fötzchen geschichten perverscache:3CElnVsVlp8J:awe-kyle.ru/files/Authors/LS/www/stories/georggenders4901.html cuckold diaphragm asstr pregnant